रमीज राजा को आकाश चोपड़ा की दो टूक, PSL में 16 करोड़ का खिलाड़ी खरीदना मुश्किल

 रमीज राजा को आकाश चोपड़ा की दो टूक, PSL में 16 करोड़ का खिलाड़ी खरीदना मुश्किल

नई दिल्ली. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के प्रमुख रमीज राजा ने इस हफ्ते की शुरुआत में कहा था कि वह पीएसएल के अगले सत्र में बदलाव लाने के इच्छुक हैं. उनके मुताबिक, पाकिस्तान सुपर लीग की अवधारणा में बदलाव का समय है. इस दौरान पीसीबी प्रमुख ने कहा कि मौजूदा समय में ड्राफ्ट सिस्टम को हटाकर लीग में नीलामी शुरू करने का समय है. उनका मानना था कि इससे पीएसएल आईपीएल के बराबर आ सकता है. लीग में की शुरुआत से ही ड्राफ्ट सिस्टम लागू है.

पीसीबी मुखिया का मानना है कि मार्केट हमारे अनुकूल है, लेकिन हमें इसके लिए फ्रेंचाइजी मालिकों से मिलकर चर्चा करनी होगी. क्योंकि यह पैसे का खेल है. जब पाकिस्तान में क्रिकेट इकोनॉमी बढ़ेगी तो देश का सम्मान बढ़ेगा. क्योंकि उस अर्थव्यव्था की मुख्य वजह पीएसएल होगा. हम पाकिस्तान सुपर लीग में ऑक्शन मॉडल लागू करते हैं तो हमें पर्स बढ़ाना होगा. तब हम आईपीएल की बराबरी कर लेंगे. उसके बाद हम देखेंगे कि पीएसएल छोड़ कर आईपीएल को कौन तरजीह देगा.

आकाश चोपड़ा का पलटवार

भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज आकाश चोपड़ा ने रमीज राजा के बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए जबरदस्त पटलवार किया है. उन्होंने जोर देकर कहा, भले ही पीएसएल में नीलामी हो, कोई भी खिलाड़ी लीग में 16 करोड़ में बिकने वाला नहीं है, क्योंकि बाजार की गतिशीलता ऐसा घटित होने नहीं देगी. बीते साल राजस्थान रॉयल्स ने दक्षिण अफ्रीका के ऑलराउंडर क्रिस मॉरिस को 16 करोड़ रुपये में खरीदा था.

आकाश चोपड़ा ने अपने आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर कहा, अधिकार बेचने से पैसा है, उसके आधार पर आप लीग के मूल्य और टीमों के मूल्य का विश्लेषण करते हैं. फिर, आप पर्स को विभाजित करते हैं और लीग शुरू करते हैं, चाहे नीलामी के आधार पर ड्राफ्ट के अनुसार. उन्होंने आगे कहा, रमीज भाई का कहना है कि अगर पीएसएल में नीलामी होती है तो मूल्य सीमा बढ़ जाएगी. लेकिन आपने पीएसएल में किसी खिलाड़ी को 16 करोड़ रुपये में बिकते नहीं देखा होगा, यह संभव नहीं है. बाजार की गतिशीलता ऐसा नहीं होने देगी. यह स्पष्ट है.

niraj

Related post